32.1 C
Chandigarh
Monday, October 25, 2021
HomeHindi NewsDC vs KKR: केकेआर के हाथों मिली हार के बाद निशब्द हुए...

DC vs KKR: केकेआर के हाथों मिली हार के बाद निशब्द हुए ऋषभ पंत, राहुल त्रिपाठी ने कही ये बात

Picture Supply : IPLT20.COM
Rishabh Pant was shocked after the defeat by the hands of KKR, Rahul Tripathi mentioned this DC vs KKR

इयोन मोर्गन की अगुवाई वाली कोलकाता नाइट राइडर्स ने दिल्ली कैपिटल्स को आईपीएल 2021 के दूसरे क्वालीफायर में तीन विकेट से मात देकर फाइनल में जगह बना ली है। केकेआर की खिताबी भिड़ंत अब चेन्नई सुपर किंग्स से 15 अक्टूबर को होगी। क्वालीफायर 2 की बाद करें तो दिल्ली ने पहले बल्लेबाजी करते हुए केकेआर के सामने 136 रनों का लक्ष्य रखा था। कोलकाता ने एक गेंद रहते इस लक्ष्य को हासिल कर लिया। आखिरी ओवर में केकेआर को 7 रन की जरूर थी, अश्विन की पांचवी गेंद पर राहुल त्रिपाठी ने शानदार छक्का लगाते हुए अपनी टीम को यह मैच जीताया।

हार से निराश दिल्ली के कप्तान ऋषभ पंत ने मैच के बाद कहा “मेरे पास यह जवाब नहीं है कि मैं कैसा महसूस कर रहा हूं। छह विकेट गिरने के बाद हमें विश्वास था कि हम मैच को आगे ले जाएंगे, लेकिन हम नहीं कर पाए। उन्होंने मध्य ओवरों में अच्छी गेंदबाजी की, हम स्ट्राइक को रोटेट नहीं कर पाए, लेकिन दिल्ली कैपिटल्स को हमेशा वापसी के लिए जाना जाता है, उम्मीद है हम वापसी करेंगे अगले साल। इस सीजन में हमने अच्छा क्रिकेट खेला, जो भी हुआ हो हम सीखते हैं, उम्मीद है हम अगले सीजन अच्छा प्रदर्शन करेंगे।”

केकेआर को छक्के से मैच जीताने वाले राहुल त्रिपाठी ने कहा “यह बहुत अच्छा लगता है। टीम के लिए जीत बेहद अहम थी। हमारे पास एक या दो कठिन ओवर थे और मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैच इतना गहरा जाएगा। खुशी है कि हमने मैच जीत लिया। रबाडा ने 18वां ओवर वास्तव में अच्छी गेंदबाजी की, लेकिन मुझे पता था कि मुझे सिर्फ एक हिट लगानी है। संभावना थी तो दो लेने की योजना थी। नए बल्लेबाजों के लिए सीधे सिंगल और बाउंड्री हासिल करना मुश्किल था। यह कम रख रहा था और हिट करना मुश्किल था। मुझे खुद पर विश्वास था और मुझे पता था कि यह सिर्फ एक हिट दूर था। पहले चरण के बाद यह हमारे लिए शानदार सफर रहा है। हमें खुद पर विश्वास था और इयोन और कोच द्वारा दिए गए दृष्टिकोण ने हमें सकारात्मक दृष्टिकोण के साथ मदद की।”

केकेआर के कप्तान इयोन मोर्गन ने कहा “आखिरी के चार ओवरों में हमने जो किया हम नहीं चाहते थे ऐसा हो, क्योंकि हमारे ओपनरों ने बहुत अच्छा किया था। बेशक हम फाइनल जीतने उतरेंगे। हम आसानी से मैच जीतना चाहते थे, लेकिन दिल्ली कैपिटल्स बहुत अच्छी टीम है। हमारे लिए अच्छा है कि हमारे पास कई युवा भारतीय खिलाड़ी हैं। जिस तरह की हमारी टीम है, हम लगातार बातचीत करते रहे हैं, हम अपनी रणनीति अपनाने में कामयाब रहे। ब्रैंडन मैक्कलम ने वेंकटेश अय्यर का आगे बढ़ना देखा लगातार नेट्स पर, यही वजह रही कि वह टीम में जगह बना पाए और अहम योगदान दे पाए इस टूर्नामेंट के दूसरे लेग में।”

Supply hyperlink

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular