13.2 C
Chandigarh
Saturday, November 27, 2021
HomeHindi Newsसीहोर के युवा ने बनाई बिजली उपकरणों को संचालित करने वाली डिवाइस,...

सीहोर के युवा ने बनाई बिजली उपकरणों को संचालित करने वाली डिवाइस, जानें खासियत

Sehore Information: सीहोर शहर का एक युवा जल्द ही नया स्टार्टअप शुरू करने वाला है. नया स्टार्टअप युवा की खोज भी है. दरअसल शहर के युवा ने एक डिवाइस तैयार की है. उसकी मदद से आप हजारों किमी दूर बैठे अपने घर के सभी बिजली उपकरण संचालित कर सकेंगे. इससे उपकरणों को बंद-चालू किया जा सकता है. हालांकि इसके लिए कई उपकरण बाजार में पहले से उपलब्ध हैं, लेकिन उपकरणों को संचालित करने के लिए वाई-फाई की आवश्यकता होती है. जबकि इस डिवाइस को ऑफलाइन भी संचालित किया जा सकता है. डिवाइस में मेन्युअल संचालन की सुविधा भी उपलब्ध कराई गई है. डिवाइस की अन्य खासियत किफायती होना है. बाजार में मिलने वाली सभी डिवाइस से ये सस्ती है. 

शहर के एचडीएफसी बैंक इंग्लिशपुरा क्षेत्र में रहने वाले यश कुरचनिया जल्द ही कारोबार की तरह उपयोग में लानेवाले हैं. उन्होंने बताया कि डिवाइस के पेटेंट के लिए आवेदन किया है. पेटेंट होते ही शहर के युवा आत्मनिर्भर भारत के तहत इसका व्यावसायिक उपयोग कर सकेंगे. उपकरण के बारे में यश कुरचनिया ने बताया कि मेरी डिवाइस बिजली के उपकरणों को संचालित करने के काम आएगी. इसके जरिए घर के सभी उपकरणों को बंद-चालू करने के अलावा नियंत्रित भी किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि कई उपकरण बाजार में पहले से हैं, लेकिन बहुत महंगे होने के साथ ही ऑफलाइन संचालित करना मुश्किल है. जबकि इसके जरिए सभी उपकरणों को ऑफलाइन भी चलाया जा सकता है.

उन्होंने दावा किया कि इसे गूगल होम एप के जरिए वाइस कमांड से भी संचालित किया जा सकता है. इस उपकरण को कंप्यूटर, मोबाइल और मेन्युअल संचालित करना आसान है. यश ने इस डिवाइस की एक और विशेषता बताई. उन्होंने बताया कि डिवाइस लगाने के लिए घर के पुराने बिजली के बटन बदलने की आवश्यकता नहीं है. जबकि अन्य कंपनियों की डिवाइस लगवाने पर आम बटन काम नहीं करते हैं. यश की बनाई डिवाइस से बिजली के बटन से झटके लगने की आशंका नहीं है क्योंकि डिवाइस के बटन में पांच एंपीयर का करंट ही दौड़ता है. इस डिवाइस के जरिए किस उपकरण, किस कमरे से कितनी बिजली खर्च हो रही, इसकी भी जानकारी मिलेगी. हर मिनट, हर घंटे, हर दिन और हर महीने की बिजली खपत की जानकारी बिना मीटर देखे ही डिवाइस से पता चल जाएगी. उन्होंने दावा किया कि रजिस्ट्रेशन और पेटेंट का काम पूरा होने के साथ उपकरण बाजार में उपलब्ध होगा औ उससका निर्माण सीहोर में ही किया जाएगा. 

Congress ने Amarinder Singh की पत्नी को भेजा कारण बताओ नोटिस, जवाब नहीं देने पर होगी कार्रवाई

Andhra Pradesh Floods: बाढ़ की वजह से आंध्र प्रदेश में जन जीवन अस्त-व्यस्त, अव्यवस्थाओं को लेकर मुख्यमंत्री रेड्डी पर हमलावर हुआ विपक्ष

 

Supply hyperlink

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular